Join Our WhatsApp Group!

India VS South Africa T20: शुभमन गिल की वापसी, भारतीय क्रिकेट के लिए सुखद खबर या विकेट चयन का घमासान?

भारतीय क्रिकेट प्रशंसकों के लिए शुभमन गिल की वापसी किसी सुखद खबर से कम नहीं है। लंबे समय तक चोट के कारण टीम से बाहर रहने के बाद गिल ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टी-20 मैच में टीम में वापसी की है। लेकिन उनकी वापसी ने टीम चयन को लेकर एक स्वस्थ सिरदर्द भी पैदा कर दिया है।

पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा इस बात को लेकर असमंजस में हैं कि गिल को टीम में शामिल करने के लिए किस खिलाड़ी को बाहर किया जाए। उन्होंने अपने youtube चैनल पर कहा, “शुभमन गिल वापस आ गए हैं, इसलिए मैं मान रहा हूं कि वह खेलेंगे। लेकिन सवाल यह है कि किसे बाहर किया जाए? ईशान किशन एक बैक-अप विकेटकीपर और सलामी बल्लेबाज हैं, इसलिए उन्हें भी बाहर करना मुश्किल है। ऋतुराज गायकवाड़ ने पिछली सीरीज़ में अच्छा प्रदर्शन किया था, इसलिए उन्हें भी बाहर करना आसान नहीं होगा।”

चोपड़ा आगे कहते हैं, “यह एक अच्छा सिरदर्द है, लेकिन यह भी एक मुश्किल फैसला है। गिल को मौका मिलने पर वह अच्छा प्रदर्शन करते हैं, इसलिए उन्हें बाहर करना मुश्किल है। लेकिन अन्य खिलाड़ियों को भी नजरअंदाज करना मुश्किल है।”

गिल की वापसी ने टीम इंडिया के लिए चयन दुविधा को बढ़ा दिया है। एक ओर गिल के शानदार फॉर्म को अनदेखा करना मुश्किल है, दूसरी ओर गायकवाड़ और किशन भी मजबूत दावेदार हैं। देखना यह होगा कि टीम प्रबंधन इस चयन दुविधा को कैसे सुलझाते है।

गिल की वापसी क्यों है खास?

गिल एक बेहद प्रतिभाशाली युवा खिलाड़ी हैं, जिनसे भारतीय क्रिकेट को भविष्य में बहुत उम्मीदें हैं। उन्होंने अपने छोटे से करियर में कई शानदार पारियां खेली हैं और लगातार खुद को साबित किया है। उनकी वापसी भारतीय टीम को मजबूती प्रदान करेगी।

गिल ने पिछले कुछ महीनों में शानदार फॉर्म दिखाया है। उन्होंने घरेलू क्रिकेट में लगातार रन बनाए हैं और India A की ओर से भी शानदार प्रदर्शन किया है। उनकी फॉर्म को देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि वह भारतीय टीम में वापसी के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

चयन दुविधा क्या है?

गिल की वापसी ने भारतीय टीम के लिए चयन दुविधा को बढ़ा दिया है। गिल को टीम में शामिल करने के लिए किसे बाहर किया जाए, यह एक मुश्किल फैसला है। गायकवाड़ और किशन भी मजबूत दावेदार हैं और उन्हें बाहर करना आसान नहीं होगा।

गायकवाड़ ने पिछली सीरीज़ में बेहतरीन प्रदर्शन किया था और उन्हें बाहर करना मुश्किल होगा। किशन भी एक बेहतरीन खिलाड़ी हैं और उन्हें भी नजरअंदाज करना मुश्किल है।

टीम प्रबंधन क्या करेगा?

यह देखना दिलचस्प होगा कि टीम प्रबंधन इस चयन दुविधा को कैसे सुलझाता है। गिल, गायकवाड़ और किशन तीनों ही मजबूत दावेदार हैं और किसी एक को बाहर करना आसान नहीं होगा। संभावना है कि टीम प्रबंधन फॉर्म और पिछले प्रदर्शन को आधार बनाकर अंतिम फैसला करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *