Reliance Share: क्या 3000 छू लेगा रिलायंस? रिकॉर्ड ऊंचाई के करीब पहुंचा शेयर, जानिए क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स!

नए साल की शुरुआत से ही शेयर बाजार में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) के शेयर सुर्खियों में बने हुए हैं. 2024 की शुरुआत में कंपनी के शेयर ने अपनी रिकॉर्ड ऊंचाई को छू लिया है, जिससे निवेशकों के बीच जोश बढ़ गया है. लेकिन एक बड़ा सवाल हर किसी के मन में है – क्या रिलायंस का शेयर 3000 रुपये के पार जा सकता है? आइए जानते हैं एक्सपर्ट्स की राय और इस शेयर के भविष्य की संभावनाओं के बारे में विस्तार से.

रिकॉर्ड तोड़ता रिलायंस का शेयर:

पिछले साल रिलायंस का शेयर काफी उतार-चढ़ाव देखने के बाद अब लगातार तेजी पकड़ रहा है. जुलाई 2023 में इस शेयर ने 2635.17 रुपये का अपना अब तक का रिकॉर्ड बनाया था. हालांकि मार्च 2023 में यह शेयर गिरकर 52 हफ्तों के निचले स्तर 2012.14 रुपये तक भी पहुंच गया था. पर 2024 की शुरुआत से इसने फिर ऊंचाई का सफर तय किया है और 8 जनवरी 2024 तक यह 2,890 रुपये के आसपास कारोबार कर रहा है.

क्यों उछल रहा है रिलायंस का शेयर?

इस तेजी के पीछे कई कारणों को माना जा रहा है:

  • तेल और गैस क्षेत्र में मजबूती: रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण वैश्विक स्तर पर तेल और गैस की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है. रिलायंस अपने रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल्स कारोबार से अच्छा मुनाफा कमा रहा है, जिसका असर इसके शेयर की कीमत पर भी पड़ रहा है.
  • जियो और रिटेल का शानदार प्रदर्शन: रिलायंस की दूरसंचार शाखा जियो और रिटेल कारोबार लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. जियो के पास देश में सबसे अधिक सब्सक्राइबर्स हैं और रिटेल बाजार में भी रिलायंस की मजबूत पकड़ है. इन दोनों सेगमेंट्स के अच्छे प्रदर्शन से निवेशकों का भरोसा बढ़ा है.
  • नए कारोबार में विस्तार: रिलायंस सौर ऊर्जा, ग्रीन हाइड्रोजन और डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे नए क्षेत्रों में भी तेजी से निवेश कर रहा है. निवेशकों को इनमें भविष्य की अच्छी संभावनाएं नजर आ रही हैं, जिससे शेयर की कीमत में तेजी आ रही है.

क्या पहुंच पाएगा 3000 का आंकड़ा?

एक्सपर्ट्स की राय इस मुद्दे पर थोड़ी बंटी हुई है. कुछ का मानना है कि मौजूदा ट्रेंड को देखते हुए रिलायंस का शेयर 3000 रुपये पार कर सकता है. इसके पीछे तेल की कीमतों में संभावित बढ़ोतरी, सरकारी खर्च में बढ़ोतरी और ब्याज दरों में स्थिरता को मुख्य कारण माना जा रहा है.

हालांकि कुछ एक्सपर्ट्स यह भी आशंका जता रहे हैं कि वैश्विक आर्थिक मंदी की आशंका, रुपये के कमजोर पड़ने और बाजार में किसी बड़ी गिरावट के चलते शेयर की कीमत में अल्पकाल में गिरावट भी आ सकती है.

निष्कर्ष:

यह तो तय नहीं है कि रिलायंस का शेयर 3000 रुपये के पार जाएगा या नहीं, लेकिन इसकी संभावनाएं निश्चित रूप से अच्छी दिखाई दे रही हैं. हालांकि निवेशकों को सावधानी बरतते हुए बाजार के रुझानों का बारीकी से अध्ययन करना चाहिए और उचित जोखिम उठाकर ही निवेश करना चाहिए.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *